View Cart

Resource Centre

Scroll Up

Scroll Down

इकतारा जल्दी ही भोपाल स्थित केन्द्र पर एक ठिया विकसित करने में जुटा है जहाँ बालसाहित्य का विभिन्न भाषाओं की किताबों का एक बड़ा संग्रह होगा। दुनिया के चुनिन्दा बाल पत्रिकाएँ वहाँ देखी जा सकेंगी। यह एक एसा ठिया होगा जहाँ न सिर्फ शोधार्थी बल्कि बालसाहित्य के इलाके में काम करने वाले लेखक, कार्यकर्ता, रसिक किताबों के एक समन्दर में विचर सकेंगे।

करीब 2500 किताबें हमारे केंद्र में आ चुकी हैं। इनमें कई पुरस्कृत अंग्रेज़ी, हिन्दी, मराठी, कोंकणी, उर्दू, यूरोपिय भाषाओं की किताबें शामिल हैं। इतिहास, समाज शास्त्र, विज्ञान, वन्य जीवन, दर्शन शास्त्र, कला, साहित्य जैसे तमाम विषयों की किताबें भी आपको पढ़ने को मिलेंगी।

इकतारा एक साझा केंद्र है और आपके साझे से ही यह विकसित होगा। इसलिए आप सब से इस केन्द्र के भविष्य के लिए सुझाव, मदद, सलाह आमंत्रित हैं।

 

Send us Your Thoughts